मौत से पहले फोन पर रो-रोकर बेटी ने कही थी मुझसे ये बातें, पिता ने सुनाई आपबीती

Thursday, March 22nd, 2018, 4:55 pm

नोएडा.टीचर के टॉर्चर और गंदी नीयत से परेशान होकर 9वीं की छात्रा इकिशा शाह ने खुदकुुुशी कर ली। लेकिन उसका परिवार अब भी यह मानने को तैयार नहीं कि उनकी बेटी अब उनके बीच नहीं है। पिता का रो-रो कर बुरा हाल है। वे आरोपी टीचर्स को सलाखों के पीछे देखना चाहते हैं। वहीं, मां का कहना है कि अगर उन्हें इंसाफ नहीं मिला तो पूरे परिवार के साथ आत्महत्या कर लेंगी। आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। मौत से 20 मिनट पहले बेटी ने फोन पर पिता से कही थी ये बातें…

– इकिशा दिल्ली के मयूर विहार स्थित एल्कॉन इंटरनेशनल स्कूल में पढ़ती थी। उसका परिवार नोएडा सेक्टर-52 में रहता है।
– पिता राघव शाह प्रसिद्ध कथक डांसर और बिरजू महाराज के शिष्य हैं।
– मंगलवार शाम मौत से 20 मिनट पहले इकिशा ने पिता से फोन पर बात कर खुदकुशी कर ली।
– रोते हुए पिता ने बताया- ‘मंगलवार शाम करीब 4.15 मिनट पर मेरी इकिशा से फोन पर बात हुई।’
– ‘पापा कहते ही रोने लगी। कहा- मैंने पूरा कोर्स तैयार कर लिया है।’
– ‘लेकिन ये दोनों बहुत गंदे लोग हैं। मुझे फिर फेल कर देंगे।’
– ‘फोन पर मैं उसे दिलासा देता रहा, बेटी कुछ नहीं हुआ। घर आकर बात करता हूं।’

कमरे का दरवाजा तोड़ा, तो दिखा ऐसा मंजर
– पिता राघव शाह के मुताबिक, जब वे घर पहुंचे तो बेटी के कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था।
– ‘मैं बहुत घबराया हुआ था। आवाज लगाने पर भी इकिशा दरवाजा नहीं खोल रही थी।’
– ‘मैंने फिर से आवाज लगाई। फिर दरवाजा तोड़कर भीतर देखा…।’
– ‘वो फंदे से लटकी हुई थी। मुझे यकीन नहीं हो रहा था कि बेटी ने आत्महत्या कर ली है।’
– ‘उसे फौरन फंदे से निकालकर हम पास के अस्पताल पहुंचे। जहां डॉक्टरों ने उसे डेड डिक्लेयर कर दिया।’

आखिर क्या हुआ था इकिशा के साथ, क्यों थी परेशान?
– पिता के मुताबिक, पिछले कुछ समय से इकिशा बहुत परेशान रह रही थी।
– जब उन्होंने बेटी से पूछा- आखिर क्या बात है, तो उसकी बातें सुन पिता हैरान रह गए।
– इकिशा ने स्कूल के ही दो टीचर राजीव सहगल (एसएसटी) और नीरज आनंद (साइंस) पर गंदी नीयत से देखने और छेड़खानी का आरोप लगाया।
– राघव शाह ने बताया, दोनों टीचर अकेले में उसे गंदी नीयत से छूने की कोशिश करते थे।
– ‘मैंने प्रिंसिपल से इसकी शिकायत की। सुनने की बजाए उलटा उन्होंने मुझे बेटी को स्कूल से निकालने की धमकी दे दी।

एक्जाम में किया फेल
– ‘मेरी बेटी पढ़ाई में बहुत अच्छी थी। शिकायत के बाद से ही टीचर उसे परेशान करने लगे।’
– ’16 मार्च को उसका रिजल्ट आया। हैरानी की बात यह है कि उन्हीं दो सब्जेक्ट में इकिशा फेल हुई थी।’
– राघव शाह ने बताया, इसके बाद मैंने प्रिंसिपल से रि-चेकिंग की बात की। पर उन्होंने मुझे अनसुना कर दिया।
– ‘उसी दिन कॉरिडोर में मुझे वो दोनों टीचर मिले। दोनों मुझे देख कर हंस रहे थे।’
– बेटी बैक पेपर की तैयारी में लगी थी। लेकिन मेंटली टॉर्चर्ड महसूस कर रही थी।
– ‘वह बार-बार मुझसे कहती थी कि वो उसे फिर से फेल कर देंगे। मैं ही उसे समझ नहीं पाया।’